उल्टा चश्मा’ के प्रमुख कलाकार डॉ. हंसराज हाथी का दिल का दौरा पड़ने से निधन

पापुलर टीवी शो ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ के प्रमुख कलाकार डॉ. हंसराज हाथी का सोमवार सुबह दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। वे मात्र 46 साल के थे।

बताया जा रहा है कि ‘तारक मेहता’ के सीनियर एक्टर डॉ. हाथी, जिनका असली नाम कवि कुमार आजाद  है, पिछले काफी समय से बीमार चल रहे थे। जानकारी के मुताबिक, मुंबई के मीरारोड स्‍थ‍ित वॉकहार्ट हॉस्पिटल में उनका निधन हुआ।

आजाद मूल रूप से बिहार के सासाराम जिले के रहने वाले थे लेकिन कुछ साल से मुंबई में ही सैटल हो गए थे। कवि कुमार आजाद ने साल 2010 में अपना 80 किलो वजन सर्जरी से कम कर खूब सुर्खियां बटोरी थीं। इस सर्जरी के बाद लाइफ की बहुत सी चीजें उनके लिए आसान हो गई थीं। उन्होंने खुद एक इंटरव्यू में कहा था कि, ‘मुझे पसंद है लोगों ने मुझे मेरे किरदार के लिए पसंद किया।’

‘तारक मेहता….’ में कवि कुमार आजाद डॉ. हाथी के किरदार में थे और वे हमेशा खाना खाने के दीवाने रहते थे। शो में वे डॉक्टर थे लेकिन ओवरवेट डॉक्टर थे। उन्हें हर कोई बहुत प्यार करता था। साल 2008 में टीवी सीरियरल ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ में निर्मल सोनी के डॉक्टर हाथी का किरदार छोड़ने के बाद कवि आजाद को इस रोल का ऑफर मिला था।

बता दें कि कवि कुमार को एक्टिंग का शौक बचपन से ही था। एक्टिंग के अलावा उन्हें कविताएं लिखने का भी शौक था। कवि ने दिल्ली के एक कॉलेज से अभिनय की ट्रेनिंग ली और बाद में वह मुंबई अपना करियर बनाने के लिए आ गए थे। शुरुआती दौर में उन्हें काफी संघर्ष करना पड़ा। तब उनके पास इतने भी पैसे नहीं थे कि वे किराए के कमरे में भी रह सकें। डॉ. हाथी के अचानक निधन से पूरे टीवी इंडस्ट्री में शोक की लहर है।‘तारक मेहता…’ के प्रड्यूसर असित कुमार मोदी ने ट्वीट के जरिए कुमार आजाद को याद किया और कहा, ‘नहीं रहे, हाथी मेरे साथी।

Categories: ई-पेपर,सिनेमा

Leave A Reply

Your email address will not be published.